केंद्र सरकरी योजनाताजा खबरसरकारी योजना

PM Kisan FPO योजना 2022: किसानों को देगी सरकार 15 लाख, ऐसे करें Online रजिस्ट्रेशन

PM Kisan FPO योजना 2022: किसानों को देगी सरकार 15 लाख, ऐसे करें Online रजिस्ट्रेशन

PM Kisan FPO योजना 2022 लागू करें, पीएम किसान एफपीओ योजना पंजीकरण, पीएम किसान एफपीओ योजना ऑनलाइन पंजीकरण | पीएम किसान एफपीओ योजना 2022 आवेदन पत्र | किसानों को मिलेगा 15 लाख रुपये की पीएम किसान एफपीओएस योजना का लाभ, जानिए विवरण हिंदी में

खुशखबरी! केंद्र सरकार द्वारा देश के कृषि क्षेत्र को आगे बढ़ाने और किसानों को आर्थिक रूप से अधिक मजबूत बनाने के उद्देश्य से भारत सरकार के कृषि और सहकारिता विभाग द्वारा पीएम किसान एफपीओ योजना 2022 शुरू की गई है। इस सरकारी योजना के तहत देश में कार्यरत एफपीओ (किसान उत्पादक संगठन) संगठनों द्वारा किसानों को 15 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

इस किसान हितैषी योजना से देश के किसानों को अपार लाभ मिलेगा, जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि यह पीएम किसान एफपीओ है जिसे केंद्र सरकार ने कृषि क्षेत्र को आगे बढ़ाने के लिए शुरू किया है। योजना के तहत कुल 4,496 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

FPO का क्या मतलब है? (FPO क्या है)

आइए सबसे पहले बात करते हैं कि FPO का फुल फॉर्म क्या है? तो जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि यहां एफपीओ का फुल फॉर्म “किसान उत्पादक संगठन” है, जिसे हम हिंदी भाषा में “किसान उत्पादक संगठन” कहते हैं।

अब बात करते हैं एफपीओ संगठन की, इसके तहत कृषि व्यवसाय करने वाले कई किसान या कई गांवों के किसान मिलकर किसानों का एक समूह बनाते हैं, ये सभी किसान कंपनी अधिनियम (अधिनियम) के तहत एक उत्पादक कंपनी के रूप में होते हैं। कृषि उत्पादक अपना पंजीयन कराकर कार्य को आगे बढ़ाते हैं। एफपीओ संगठन बनाने और उसका लाभ पाने के लिए कम से कम 11 किसानों को संगठित होकर अपनी कृषि कंपनी या संगठन का पंजीकरण कराना होगा।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना

पीएम किसान एफपीओ योजना के तहत 15 लाख रुपये कैसे प्राप्त करें

पीएम किसान एफपीओ योजना में किसानों को मिलेगा 15 लाख रुपये का लाभ, जानिए पूरी जानकारी देश के किसान वर्ग के लिए हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई इस पीएम किसान एफपीओ योजना के तहत 15 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए कम से कम 11 किसानों को कंपनी अधिनियम (एसीटी) के तहत संगठित किया गया है।

आपको खुद को एक निर्माता कंपनी के रूप में पंजीकृत करना होगा। उसके बाद इस संगठन (कंपनी) का कार्य संबंधित विभाग द्वारा देखा जाएगा और नियमानुसार सही पाए जाने पर 15 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। जानकारी के लिए बता दें कि एफपीओ संगठन को यह राशि तीन साल में मिल जाएगी।

महत्वपूर्ण शर्तें जिन्हें आपको पूरा करना चाहिए

  • योजना के तहत कम से कम 11 किसानों को संगठित होकर अपनी कृषि कंपनी या संगठन बनाना होगा।
  • पहाड़ी क्षेत्र में संगठन बनाने के लिए कम से कम 100 किसानों का होना जरूरी है।
  • वहीं, मैदानी इलाकों में संगठन में कम से कम 300 किसानों का होना जरूरी है।
  • आपका काम नाबार्ड कंसल्टेंसी सर्विसेज संगठन द्वारा देखा जाएगा और उसके आधार पर रेटिंग दी जाएगी।

पीएम किसान एफपीओ योजना 2022 के लाभ

  • देश में कृषि क्षेत्र का विस्तार होगा और किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।
  • किसानों की उत्पादकता बढ़ेगी।
  • छोटे और सीमांत किसानों को समूह बनाकर लाभ दिया जा सकता है।
  • एफपीओ योजना के तहत किसान उत्पादक संगठनों को केंद्र सरकार द्वारा 15 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • एक और बड़ा फायदा यह होगा कि किसानों को बिचौलियों से मुक्ति मिलेगी।
  • एफपीओ सिस्टम से किसानों को अपनी फसल का अच्छा दाम मिल सकेगा।
  • किसानों के लिए उर्वरक, बीज, दवाएं और कृषि उपकरण जैसी आवश्यक वस्तुएं खरीदना बहुत आसान हो जाएगा।
  • केंद्र सरकार ने देश में 10,000 किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) के गठन की तैयारी शुरू कर दी है।

पीएम किसान FPO योजना 2022 में आवेदन कैसे करें?

  • योजना का नाम पीएम किसान एफपीओ योजना
  • किसके द्वारा शुरू की गयी केंद्र सरकार द्वारा
  • लाभार्थी किसान उत्पादक संगठन
  • उद्देश्य देश के किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
  • ऑफिसियल वेबसाइट http://sfacindia.com/FPOS.aspx

किसान उत्पादक संगठन पंजीकरण प्रक्रिया: देश के इच्छुक किसान लाभार्थी जो इस प्रधानमंत्री किसान एफपीओ योजना 2022 के तहत अपना आवेदन पत्र जमा करना चाहते हैं। वे राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक, लघु किसान कृषि व्यवसाय संघ या राष्ट्रीय सहकारी कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं।

PM Kisan FPO योजना 2022 (किसान उत्पादक संगठन) बनाने के लिए सबसे पहले किसानों को एक ग्रुप बनाना होता है। इस किसान उत्पादक संगठन में कम से कम 11 सदस्य होने चाहिए। इसके बाद आप अपने पीएम किसान एफपीओ योजना संगठन को कंपनी अधिनियम के तहत पंजीकृत करवा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
मोमोज खाने के हैं शौकीन तो रहें सावधान, हो सकते हैं कई बीमारी दिवाली से पहले करोड़ों किसानों को तोहफा: पीएम मोदी ने ट्रांसफर किए 12 वीं किस्त के 2000 रुपये WWE Survivor Series WarGames 2022 Results, Live Updates and Match Ratings Will Smith opens up about Oscar slap, tells Trevor Noah ‘people who hurt people get hurt’ What are the 12 Types of Digital Marketing? Three things we learned from Seahawks’ stunning overtime loss to Raiders The best Victoria’s Secret Black Friday Deals Bras, pajamas, more Spotify launches 2022: Bad Bunny, Taylor Swift most streamed artists of the year Shakira criticizes Spanish authorities amid tax fraud case Real sign of LeBron James’ downfall? 3 takeaways from the Lakers loss to the Pacers