Akanksha Dubey Suicide: या तो आ जाए तू या हम ही ठिकाने लग जाएं, मौत से पहले लगाया था ये स्टेटस

या तो आ जाए तू या हम ही ठिकाने लग जाएं, मौत से पहले लगाया था ये स्टेटस

भोजपुरी अभिनेत्री Akanksha Dubey आकांक्षा दुबे ने मौत से पहले अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शायरों की शायरी पेज की रील को अपना स्टोरी स्टेटस बनाया था। इस स्टेटस स्टोरी की लाइन थी कि…के राह देखेंगे तेरी चाहे जमाने लग जाएं या तो आ जाए तू या हम ही ठिकाने लग जाएं। मौत से पहले शनिवार की देर रात आकांक्षा इंस्टाग्राम पर लाइव भी हुईं और रो रही थीं।

उनके रोने को लेकर प्रशंसकों ने सवाल भी पूछे थे। एक प्रशंसक ने रोने का वीडियो क्लिप बना लिया था। यह क्लिप सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

Akanksha Dubey मूल रूप से भदोही के चौरी बाजार क्षेत्र के बरदहां गांव की रहने वाली थीं। उनका ननिहाल मिर्जापुर के विंध्याचल में है। भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े लोगों का कहना है कि आकांक्षा एक भोजपुरी गायक के करीब थीं।

पुलिस के मुताबिक, आकांक्षा एक भोजपुरी गायक के साथ वाराणसी के टकटकपुर क्षेत्र में लिव इन रिलेशन में रहती थीं। गायक के दुर्व्यवहार से वह दुखी रहती थीं। इसी वजह से अवसादग्रस्त भी थीं। पुलिस के जाने पर वह गायक अपने घर पर नहीं मिला।

और पढ़ें…  'Tmkoc's Tappu' ने एक रोमांटिक वीडियो साझा किया, प्रशंसकों ने पूछा- बाबिता जी कहां हैं?

गायक के पड़ोसियों ने बताया कि वह इधर अपने घर पर नहीं दिखा है। पुलिस को पूछताछ के लिए गायक की तलाश है। हालांकि, गायक के दुर्व्यवहार का आकांक्षा के काम पर कोई असर नहीं पड़ा था। वह भोजपुरी फिल्मों और म्यूजिक एलबम के क्षेत्र में लगातार सक्रिय थीं।

टिक-टॉक पर वीडियो पोस्ट से मचाया था धमाल

देश में प्रतिबंधित हो चुके सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म टिक-टॉक पर वीडियो पोस्ट कर आकांक्षा ने लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा था। प्रशंसकों की संख्या भी तेजी से बढ़ती चली गई, इसलिए आकांक्षा ने लगभग 17 वर्ष की उम्र में भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री का रुख कर लिया। उन्होंने भोजपुरी म्यूजिक एलबम के साथ ही फिल्मों में लीड रोल निभाया और अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज कराई। मौजूदा समय में इंस्टाग्राम पर उनके 17 लाख फॉलोअर थे।

वीडियो में खुश दिख रही थीं आकांक्षा

शनिवार की शाम Akanksha Dubey ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक और वीडियो पोस्ट किया था। इसमें भोजपुरी गाने पर वह थिरकते दिख रही थीं। आकांक्षा को करीब से जानने वालों का कहना है कि वह साहसी थीं। शाम को खुश थीं, फिर अचानक ऐसा क्या हुआ कि देर रात शव फंदे से लटका मिला।

उन्होंने अपने अभिनय व प्रतिभा के दम पर एक अलग मुकाम बनाया था। वह आत्महत्या नहीं कर सकती थीं। पूरे प्रकरण की जांच गंभीरता के साथ होनी चाहिए और आकांक्षा की मौत से जुड़ा सच सामने आना चाहिए।

होटल तक छोड़ने आया टिकरी का युवक हिरासत में, पूछताछ जारी

Akanksha Dubey शनिवार की रात आठ बजे के आसपास सारनाथ क्षेत्र स्थित होटल से एक पार्टी में जाने की बात कह कर कैब से निकली थीं। होटल के महाप्रबंधक रीतेश कुमार मेहता ने बताया कि आकांक्षा जब होटल में आईं तो वह लड़खड़ा रहीं थीं। उनके साथ काले रंग की शर्ट पहने हुए लगभग 25 साल का एक युवक था।

और पढ़ें…  'Srikanth' के कलेक्शन पर 'भैया जी' का क्या प्रभाव होगा? राजकुमार राव की फिल्म के अब तक के कलेक्शन का पता लगाएं

17 मिनट तक आकांक्षा के कमरे में रुका था युवक

युवक सहारा देकर उन्हें कमरे में ले गया। युवक लगभग 17 मिनट तक आकांक्षा के कमरे में रुका, फिर बाहर निकलकर चला गया। युवक के जाने के बाद आकांक्षा के कमरे की लाइट ऑन हुई। पुलिस ने तलाश की तो पता चला कि युवक लंका थाना क्षेत्र के टिकरी का रहने वाला है। पुलिस की पूछताछ में युवक ने बताया कि वह और आकांक्षा एक-दूसरे को लंबे समय से जानते थे।

शनिवार की रात आकांक्षा महमूरगंज क्षेत्र में एक प्राइवेट पार्टी में गई थीं। पार्टी के बाद आकांक्षा ने उन्हें कॉल कर होटल तक छोड़ने के लिए कहा तो वह महमूरगंज गया था। इसके बाद वह उन्हें उनके होटल छोड़ कर चला गया था। युवक जब आकांक्षा को लेकर कमरे में गया तो लाइट क्यों बंद थी, इस सवाल के साथ ही कई अन्य सवालों के संतोषजनक जवाब वह पुलिस को नहीं दे सका। फिलहाल, युवक पुलिस की हिरासत में है और उससे पूछताछ जारी है।

Ahead of 1989 (Taylor’s Version) release fans try to decode her cryptic Instagram stories Koffee with Karan Season 8